Social Items

Buy Now
TAGLINE : Blogging Tricks in Hindi
Hello doston, blogger me New Post Kaise likhen, aaj mai aapko blogger me sahee post likhe ka tareeka bataane jaa raha hu, kewal post likhne matr se hee aap apne post ko rank nahee kar sakte, ek sahee post likhne ke liye bhee sahee tareeka maloom hona aavshyak hai.
blgger-me-post-kaise-likhe-in-hindi
naye blogger jo apna naya blog open karna chahte hain wo yaha click karke , blog post kaise likhe  jankaaree prapt kar sakte hain. aaiye ab jante hai ki kaise sahee tarike se blogger post ko likha jaata hai.

Blogger me post kaise likhe, janiye step by step :

  • sabse pahle aapko blogger dashboard me jana hai, aur yaha jaakr aapko new post walee button par click karna hai

blogger-post-kaise-likhe
  • ab aapko naya page najar aayega, aap jis topic ke bare me likhna chahte hai, aapko us post ka title dalana hai, ek badiya title likhne ke liye aap google ke free tool keyword planner ka istemaal kar sakte hain.

blogger-post-title
  • title area ke theek niche blank page najar aa raha hai. jo aapke article ko likhne ke liye hai.
  • article ko aap direct aur html donon format men likh sakte hai.

blogger-me-compose-and-html-option
  • iske liye aapko left side me compose aur html do alag alag format najar aa rahen hain. compose me aap direct post likh sakte hain, jabki aap html wale optin me jaakr offline post likhkar yaha paste karke submit kar sakte hain.
  • blogger post likhne se pahle aapko blogger ke post editing tool ki jankaree honi aavshyak hai isiliye maine image ke madhyam se appko samjhane ka prayas kiya hai, ap image ke madhyam se dekh sakte hai.
blogger-post-editng-tool

  • ab aap samjh chuke honge ki kis tool ka kya prayog kiya jata jata hai. ab right corner me aapko kuch option najar aa rahe honge, jaise labele, permalinks,search description. ye teen option bade hee powerful aur important hai.

blogger-post-setting
  • labels wale option me aapko likhe gaye artical se sambandhit tag dena hota hai, jaise aap blogger se judi jankaree dete hai to aap label me blogger likh sakte hain.
  • permalink bahut hi important option hai, yahee apki post ka url hai, aap jo bhee isme likhte hai wahee apki post ka link hota hai. aapko dhyan dene walee baat ye hai ki yaha url likhte samay aapko har word ke sath hyphen(-)  ka prayog karna hota hai. Example- how-to-install-appliction
  • Search description waale option me aapko post se sambandhit jankaree likhni hai jis topic par apka article likha gaya hai.
Dosto, ye thi blogger me post kaise likhe, iski jankari, agar aapko post likhne me kisi bhee prakar kii dikkat aa rahi hai to aap comment karke puch sakte hain. yah post kaisi lagi, aur agar aapki post sambandhi  koi bhi ray ho to hame avashy bataye.

Blogger me new post kaise likhe

sticky-navigation-menu


blog-me-navigation-menu-ko-fix-kaise-kare
Dosto sticky menu ko hum fixed menu ke naam se bhee jaante hain. aaj ka topic hai, Blogspot  me navigation Menu ki  Position fixed kaise kare. kisi bhi blog ya website men Navigation menu ka bahut bada role hota hai. jab koi visiter kisi website par visit karta hai to kisi post ko padne ke liye webpage ko scroll karta hai. ya fir wapas aane ke liye back to top button ka prayog karna hota hai. jisase page fir se wapas scroll hokar top me pahuch jata hai. par kai website aisee hain jinme webpage ke sath sath menubar bhee scrolling ke samay gaayab ho jaata hai. aise me visitor ko baaki post dekhne ke liye fir se page ko scroll karke wapas Top par aana hota hai jo kisi bhee tarah se user friendly nahii hota, kyonki aise men Blog reader ko asuvidha hotii hai hai unka samay bhee kharaab hota hai.

kai bade professional Blogger is navigation menu ke mahatv ko bakhoobii samjhte hain aur apne blog me menubar ya navigation menu ko sticky banate hain. aise men jab kisi webpage ko scroll kiya jata hai to bhii blog ka menu top me fixed rahata hai. aise me kisi bhee blog reader ko kisi articles ko padne ke baad koi anya jankaree lena chaahe to blog ke top me fixed menu kee sahayata se ye kaam kaafee aasan ho jaata hai. aise me blog reader bina kisi pareshanii ke navigation menu se kisi bhee category ko select karke koi bhii jankareee aasani se le sakta hai or visiter aapke blog par lambe samay tika rahata hai.

Blogspot me sticky navigation menu banane ke liye niche diye step ko follow karen.

  1. sabse pahle Blogspot kee setting me jaayen aur  Dashboard > Theme > Edit HTML ko select karen.
    Sticky-menu-on-scroll
  2. edit karne ke baad aapko Ctrl+F button ko dabana hai. ab aapko Search box najar aayega. jaha aapko type katna hai ]]></b:skin> aapko Enter key dabaana hai. enter karte hee aapko search box men type kiya hua code aapke theme ke source code men dikhaai dega.
  3. is code ke theek upar aapko niche diye code ko paste karna hoga.
  4. .sticky{position:fixed!important;top:0;z-index:99;-webkit-transform:translateZ(0);}
  5. ab aapko search box men ]]></b:skin> code kii jagah </body> type kerna hai, type karne ke baad enter key dabayen.
  6. ab editor me </body> tag ke theek upar niche diye code ko copy karke paste karen.
  7. <script type='text/javascript'>
    //<![CDATA[
    // Sticky Menubar
    function makemeSticky(e){function t(){var e=s.getBoundingClientRect();e.top<0?(n.className=a+" sticky",n.style.width=i+"px"):n.className=a}var n=document.getElementById(e),s=document.createElement("div");n.parentNode.insertBefore(s,n);var i=n.offsetWidth,a=n.className+" makesticky";window.addEventListener("scroll",t,!1)}makemeSticky("main-wrapper");
    //]]>
    </script>
  8. itna karne ke baad aapko save button par click karba hai. lekin isase pahle ek kaam jaroor karen. upar likhe code men jo text highlight kiya hai. uskee jagah apne theme ke navigation menu ka class name dalna padega.
Doston ye tha aaj ka articles jismen navigation menu ho sticky ya fix karne kee tarkeeb bataai gai hai. aapko ye post kaisa laga? yadi is post se sambandhit koi bhee sawaal ho to aap comment box me puchh sakte hain. jald hee aapse nai post ke sath mulaakaat hogi. tab tak ke liye aap khus rahen, salamat rahen. Jai Hind.

Blogspot me navigation Menu ko sticky kaise banaye

seo-kya-hai
What is SEO, Seo  क्या है, आज मैं आपको SEO यानि search Engine optimization की जानकारी देने जा रहा हूँ, किसी वेबसाइट को बिना seo के वजूद में नहीं लाया जा सकता है, दोस्तों भले की आप अपने ब्लॉग को कितना भी बढ़िया या क्वालिटी पोस्ट से भर लो लेकिन बिना seo की जानकारी की आप इसे रैंक नहीं करा सकते, अगर आप ब्लॉग बनाना सीख चुके हो, तो इसके बाद आपका पहला काम आर्टिकल लिखना और अपने ब्लॉग या वेबसाइट का seo करना होता है.
आज मैं इस टॉपिक के बारे में विस्तार से बताऊंगा, जब आप एक Blog या Website बनाते है तो उस पर आप अपने विचार लोगों को Share करते है। ब्लॉग या वेबसाइट ही एक ऐसा माध्यम है जो आपको बहुत कम समय में हजारो लोगों से Connect कर सकता है। लेकिन Seo के बिना ये संभव नही, क्योंकि यह एक ऐसी तकनीक है जो आपके ब्लॉग को Search Engine में Rank करने में मदद करता है। हर रोज हजारों लोग Blogging से जुड़ते है, और ऐसे में सर्च इंजन में एक ही वेबसाइट Top Ranking में नही होती यह Seo में बदलाव के साथ साथ बदलती रहती है। एक नया ब्लॉगर सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन को लेकर बड़ी असुविधा में होता है।


अपने ब्लॉग को सर्च इंजन के पहले Page पर Rank कर पाना इतना आसान नही है। इसलिए ब्लॉगर को अपने ब्लॉग में Seo करने की जरूरत होती है। शुरुआत में आपको Seo को समझना मुश्किल काम लग सकता है। लेकिन एक बार इसे समझने के बाद आप Seo के माध्यम से अपने ब्लॉग को Search Engine में Optimize कर सकते है। हालाँकि यह तकनीक किसी एक दो चीजो पर काम नही करती इसके लिए 200 से ज्यादा Factor काम करते हैं। भले ही आप अपने आर्टिकल को कितना भी बढ़िया को न लिख लें लेकिन अगर आपने Article में Seo नही किया तो आपकी मेहनत बेकार है। इसी लिए Google इसके लिए जो Technique काम में लाता है जिसे Google Algorithm कहा जाता है। यह किसी एक निश्चित Parameter पर काम नही करता है और निरंतर बदलता रहता है जिसके कारण हर एक Blog site की रैंकिंग प्रभावित होती है।
off-page-seo-aur-onpage-seo-kya-hai

आज तक Google की इस तकनीक को कोई भेद नही पाया है, लेकिन इसके लिए कुछ Fundamental Principles जरूर है जिनका इस्तेमाल करके आप अपने ब्लॉग की Ranking को काफी बेहतर बना सकते हैं। Seo को लेकर हमेशा Update रहकर भी अपने ब्लॉग Post में बदलाव लाकर भी सर्च इंजन में अपने ब्लॉग की रैंकिंग को बेहतर बना सकते हैं। ब्लॉग्गिंग एक Intrusting Platform है जो आपके Communication को बढाता है और साथ ही आप इससे बढ़िया Income भी कर सकते हो। पर इसके लिए आपको कुछ मूलभूत चीजों को समझना भी जरूरी है। आज मैं आपको Seo से जुड़ी कुछ महत्वपूर्ण जानकारी दूँगा जो आपको अपने ब्लॉग या वेबसाइट की रैंकिंग को बेहतर करने में काम आयेंगे।

Seo ( Search Engine Optimaization ) क्या है :

जब आप सर्च इंजन पर कुछ भी टाइप करते हैं तो आपको उस Word से जुड़े कई Results की लिस्ट दिखाई देती है। इस लिस्ट में नंबर 1 पर जो भी ब्लॉग या वेबसाइट नजर आएगी, Seo के मामले में वो सबसे ऊपर है यानी उस ब्लॉग या वेबसाइट पर Seo का इस्तेमाल सबसे बढ़िया हुआ है। Ranking में सबसे ऊपर होने से कोई भी यूजर सर्च रिजल्ट्स में पहले लिंक पर ही क्लिक करेगा जिससे उस ब्लॉग में Visiter की संख्या भी बढ़िया होगी। आप अपने ब्लॉग को सोशल शेयरिंग के द्वारा भी लोगो तक पंहुचा सकते हैं लेकिन Genuine और Organic Traffic पाने के लिए आपको अपने ब्लॉग को Seo के द्वारा Optimize करना होगा।

Blog के लिए Seo क्यों जरुरी है :

किसी ब्लॉग के लिए Seo की अहम् भूमिका होती है। जैसे सर्च इंजन में आपको एक के वर्ड को सर्च करने पर हजारों रिजल्ट्स प्राप्त होते हैं लेकिन कुछ ही वेबसाइट है जो रैंकिंग में नजर आती हैं तो बाकी क्या। आज के समय में कंटेंट्स राइटर की कोई कमी नही है। ऐसा नही की लोगों के राइटिंग स्किल में कोई कमी है। यहाँ एक से बढ़कर एक बढ़िया आर्टिकल्स इंटरनेट पर मौजूद है। पर सभी सर्च इंजन पर नजर नही आते या फिर इग्नोर कर दिए जाते है। जब तक आप अपने ब्लॉग पर Seo का इस्तेमाल नहीं करेंगे तो किसी सर्च किये जाने वाले कीवर्ड पर टॉपिक लिखने के बाद भी आपका ब्लॉग रैंक नही कर पायेगा या फिर सर्च इंजन द्वारा Refused कर दिया जाएगा। ऐसे में आपके ब्लॉग पर ट्रैफिक पाना मुश्किल होगा। यदि आप नए ब्लॉगर हो और आपने अपने ब्लॉग पर Seo को बढ़िया तरीके से Apply किया है, तो आप कम समय में भी बढ़िया ट्रैफिक पा सकते है। एस ई ओ को समझने और इसके साथ प्रैक्टिस करते करते आप अपने सो स्किल को और भी स्ट्रांग बना सकते हैं। दो सामान टॉपिक पर बनी वेबसाइट में से केवल बेहतरीन Seo का प्रयोग करने वाली वेबसाइट ही रैंक कर पाएगी।

Seo के मुख्य भाग कौन से हैं :

मुख्यतः SEO को 2 भागों में बांटा जा सकता है, एक है ONPAGE SEO और दूसरा OFFPAGE SEO. ये दोनों एक दूसरे से एकदम अलग हैं.आइये Onpage Seo और Offpage Seo के बारे में जानते हैं

Onpage Seo :

आपने सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन या Seo क्या है और क्यों जरूरी है इसके बारे मैं जान लिया अब आप SEO में Onpage SEO के बारे में बात करेंगे। इसे समझना आसान है। इसमें आप अपने वेबसाइट में Internally काम करते है। इसमें आपके वेबसाइट की Theme या Template के डिज़ाइन पर ध्यान देना होगा। खासकर थीम का मोबाइल फ्रेंडली होना जरूरी है। स्मार्टफोन के इस दौर में आजकल ज्यादातर काम Smartphone से पूरे किये जाते हैं, इस कारण आपको एक Mobile Responsive theme का इस्तेमाल करना चहिये। बढ़िया Article लिखने के साथ Keywords पर भी फोकस करना जरूरी है। आप Google के फ्री टूल Keyword Planner की मदद ले सकते है। इन कीवर्ड का प्रयोग आपको अपने Blog, Post,Title,Meta Description में करना चाहिए. Onpage SEO को Optimize करने के लिए नीचे दिए इस Points पर काम कर सकते हैं.

Website का Layout :

एक ब्लॉग का डिज़ाइन Fully Responsive होना जरूरी है। जिससे यूजर एक्सपीरियंस boring न हो। गूगल से जुड़ी एक जानकारी के मुताबिक बताया गया कि जिन लोगों के Blog या Website मोबाइल रेस्पॉन्सिव नहीं होते उन्हें Google द्वारा Penalized किया गया। इसके अलावा भी Social Sharing के लिए दिए गए Links और Icon भी Perfect जगह पर होने चाहिये।

Title Tag :

किसी वेबसाइट के लिए परफेक्ट टाइटल टैग का होना जरूरी है। यह पड़ने में आसान होना चाहिए ताकि कोई भी User टाइटल को आसानी से समझे और उस पर क्लिक करे। आप चाहे तो टाइटल के लिए Keyword का इस्तेमाल करना बढ़िया रहता है। अधिकांश Search Engine मैं Title को 65 Words तक ही Read किया जाता है। टाइटल की Quality से ब्लॉग के Onpage Seo काफी प्रभावित होता है।

META DESCRIPTION :

जब किसी इनफार्मेशन को सर्च इंजन में सर्च करते है तो आपको कई website की लिस्ट नजर आयगी, आपको उस वेबसाइट के Title के ठीक निचे कुछ Words नजर आते हैं, उसे Meta Description कहा जाता है. जो सर्च इंजन इसी मेटा डिस्क्रिप्शन से पता लगाता है कि किस वेबसाइट में क्या इनफार्मेशन दी गई है। सर्च इंजन में केवल 150 से 160 Character को ही सर्च इंजन द्वारा पहचाना जाता है। बाक़ी के character Ignore किये जाते हैं। यह Onpage SEO के लिए बड़ा Role प्ले करता है।

SPEED TEST :

किसी भी वेबसाइट के लिए उसकी Speed बहुत मायने रखता है। अगर आपकी वेबसाइट Loading में ज्यादा समय लेती है तो उसे Visiter द्वारा Ignore कर दिया जाता है। एक एवरेज स्पीड के तहत आपकी वेबसाइट 4से 6 सेकंड में लोड हो जाए तो अच्छा है. ज्यादा टाइम SEO के लिहाज से बुरा माना गया है। इंटरनेट पर बहुत से स्पीड टेस्टर मौजूद है जो आपकी वेबसाइट के लिए Free Speed Test की सेवा उपलब्ध कराती है। और रिपोर्ट में आपको स्लो स्पीड की वजह बताने में भी हेल्प करते है।

PERMALINKS :

वेबसाइट के लिए आपको परफेक्ट Permalink की आवश्यकता होती है जो आपके आर्टिकल को रैंक करने में मदद करता है। ध्यान दें कि permalink Short हो तो बेहतर रहेगा। पर्मालिंक में आपको केवल Dashes candidate [ - ] का इस्तेमाल करना है, Underscore [ _ ] का Use करना Seo के मामले में बहुत बुरा है।

IMAGE alt TAG :

जब भी आप अपने Blog में कोई भी image ऐड करते हैं तो आपको Image Property में Title Tag और alt tag को भी लिखना जरूरी है, Onpage Seo के लिहाज से आपके टैग का नाम Meaningfull होना चाहिये। अगर आप SEO के बारे में आर्टिकल लिख रहे है तो आप उस आर्टिकल में इमेज के Name को rename करके उसकी जगह Seo.jpg या Topic से मिलता जुलता कीवर्ड्स का use करेंगे हो आपके पोस्ट की इमेज पुरी ऑप्टीमाइज़्ड हो जाएगी। एक पुराने या ज्यादा कंटेंट वाले ब्लॉग में बहुत सी इमेज स्टोर होते हैं, आप चाहे तो इन सभी इमेजेज के लिए अगल Sitmap बनाकर गूगल में सबमिट कर सकते हैं।

QUALITY CONTENT OR KEYWORDS :

किसी भी Content को लिखने से पहले यह विचार करना चाहिए की उस कंटेंट की Qality कैसी है। आप जो भी अपने ब्लॉग पर लिखते है। वह कही से Copy किया न हो, लेकिन आप दूसरे ब्लॉगर से इनफार्मेशन ले सकते है जिसे आप अपने शब्दो में लिख सकते है। अपने कंटेंट्स में आपको High Quality Kewords का भी प्रयोग करना चहिये। इसके लिए आप गूगल के फ्री टूल कीवर्ड प्लानर का प्रयोग कर सकते है।

HEADING TAG :

Seo के लिए Heading टैग का बहुत बड़ा Role है। किसी भी आर्टिकल का Title H1 टैग में लिखा होना चाहिए और subheading के लिए h2, h3 और अन्य टैग को इस्तेमाल करें। साथ ही आर्टिकल में use होने वाले कीवर्ड को bold कर सकते है। हैडिंग टैग को गूगल बोट्स आसानी से पहचान लेता है। इस कारण आपको अपने Article में heading और subheading का इस्तेमाल करना चाहिये।

WORD-COUNT :

आपके आर्टिकल्स की lenght क्या होनी चाहिये। कुछ Pro Blogger जो Seo Factor को बढ़िया से समझते हैं अगर इनकी सलाह मानें तो कोई भी Article कम से कम 1000 Word का होना चहिये। अगर हो सके तो आप इससे भी ज्यादा वर्ड लिख सकते हैं।

INTERNAL LINKING ON POST :

किसी WEBSITE को रैंक करने के लिए आपको पोस्ट के बीच में 5-6 Internal Links जोड़ने चाहिए जो आपके Post से और Website के अन्य Article से जुड़े हो, कोई भी विज़िटर जिसे आपके पोस्ट सम्बन्धी और भी जानकारी चाहिए वो उन लिंक्स पर क्लिक करके आसानी से पा सकता है जिससे आपके Page View में भी बढ़ोतरी होगी। इस तरीके से आप अपनी वेबसाइट को आसानी से Rank कर सकते हैं। Example के लिए आप Wikipedia की वेबसाइट में इंटरनल Links को देख सकते हैं.

OFF PAGE SEO :

यह Onpage seo से बिलकुल अलग है। किसी भी ब्लॉग में Seo को इम्प्रूव करने से पहले आपको ओनपेज एसईओ पर काम करना चाहिए जब on page Seo को आप अपने ब्लॉग में अप्लाई करते हैं तो आपका ब्लॉग काफी हद तक ऑप्टिमाइज़ हो जाएगा। Offpage seo को कुछ लोग Backlinks से जानते हैं लेकिन यह केवल बैकलिंक्स तक ही सीमित नहीं है। इसके कुछ Example और तरीके नीचे दिए जा रहे हैं आप इन तरीकों को अपनाकर अपने Offpage seo को Improve कर सकते हैं।

Website को सर्च इंजन में सबमिट करना :

सबसे पहले आपको अपनी वेबसाइट को सर्च इंजन में सबमिट करना है इसके लिए आपको गूगल कंसोल में जाकर अपनाई प्रॉपर्टी या वेबसाइट को जोड़ना होता है। इसके बिना आपकी वेबसाइट कभी भी सर्च इंजन पर Rank नहीं कर पायेगी।

COMMENTS :

बैकलिंक्स प्राप्त करने के लिए आपको दूसरे ब्लॉगर की वेबसाइट में जाकर Commet सेक्शन में कमेंट करना होता है। जिसमें आपको कमेंट के साथ अपनी वेबसाइट का लिंक भी देना जरूरी है। खासकर Wordpress Based Blog में आपको कमेंट के साथ साथ वेबसाइट ऐड करने का भी ऑप्शन मिल जाता है।

WRITE GUEST POST :

कुछ पॉपुलर वेबसाइट के लिए Guest post लिखकर भी आप अपने आप लोगों तक अपनी पहचान बना सकते हैं। एक नए ब्लॉगर को गेस्ट पोस्ट लिखकर अपनी वेबसाइट का लिंक भी शेयर करना चाहिए जिससे लोग आपकी वेबसाइट तक पहुँच बना सके।

SOCIAL SHARING :

आधुनिक समय में सोशल मीडिया का इस्तेमाल सभी करते हैं लेकिन एक ब्लॉगर के लिए उसकी वेबसाइट को रैंक करने के लिए आप यहाँ से बैकलिंक्स तैयार कर सकते हैं। इसके लिए आप इन वेबसाइट पर अपने ब्लॉग के नाम से पेज Creat कर सकते हैं जो आपके ब्लॉग को Rank करने में काफी मदद करेगा। नीचे कुछ पॉपुलर साइट के लिंक्स दिए हैं जहाँ से आपको बैकलिंक्स पाने में मदद मिलेगी।
  • facebook
  • Pinterest
  • twitter
  • LinkedIn
  • google plus
  • quora
  • medium

Video Sharing site :

Internet बहुत से वीडियो शेयरिंग साइट हैं, जिन पर आप अपना अकाउंट क्रीट करके अपने ब्लॉग की वीडियो को शेयर कर सकते हैं, जिससे आपके ब्लॉग को ऑप्टिमाइज़ होने में मदद मिलेगी। इसके लिए कुछ वीडियो वेबसाइट की लिस्ट दी है।
  • https://www.youtube.com
  • http://www.ustream.
  • http://www.hulu.com
  • http://www.dailymotion.com

IMAGE शेयरिंग SITES :

एक ब्लॉग में इस्तेमाल किये जाने वाले इमेज को आप फोटो वेबसाइट Account बनाकर शेयर कर सकते हैं, कुछ पॉपुलर वेबसाइट नीचे दिए हैं।
  • https://www.flickr.com/
  • https://www.instagram.com
  • http://imgur.com
  • https://www.shutterfly.com
  • http://www.fotolog.com
  • https://picasa.google.com
  • https://www.tumblr.com

Note :

Seo के बारे में गौर करने वाली सबसे महत्वपूर्ण बात ये है कि अगर आपके पास अलग अलग ब्लॉग और वेबसाइट से मिले कई हजारों Backlinks हैं, वो तब तक काम के नहीं जब तक आपने अपनी वेबसाइट को Google, Bing,और yahoo जैसे पॉपुलर सर्च इंजन के मानकों के अनुसार बढ़िया तरीके से Configure न किया हो, ऐसे में खोज परिणामों में आपकी वेबसाइट कभी Rank नहीं कर सकती। इसलिए बेहतर होगा कि आप अपनी साइट को बेहतर बनाने के बाद ही Offpage Seo के लिए काम करें। दोस्तों अगर Seo से सम्बंधित कोई भी सवाल या सुझाव आपके मन में हो तो आप कमेंट बॉक्स में शेयर कर सकते हैं।

SEO kya hai, Onpage Seo aur offpage Seo kee jankaree

दोस्तों अगर आपने Godaddy से domain खरीदा है, और आपके पास ब्लॉगर/ blogspot में खुद का ब्लॉग है, तो ब्लॉगर में custom domain को add करने की जानकारी आप इस पोस्ट से प्राप्त कर सकते हैं, आज की पोस्ट में आपको custom domain setup या godaddy domain को blogger से जोड़ने की जानकारी दी जायेगी.
Blogger यानि blogspot एक फ्री सर्विस है जहाँ आप बिना इन्वेस्ट किये अपना खुद का ब्लॉग बना सकते हैं, यहाँ आप वर्डप्रेस जैसा ब्लॉग या वेबसाइट नही बना सकते क्योकि ब्लागस्पाट में आपको वर्डप्रेस जैसे फीचर नहीं मिल पाते लेकिन वर्डप्रेस के लिए आपको पैसे भी खर्च करने पड़ते हैं.
Custom-domain-add-kaise-karen
godaddy-domain-ko-add-kaise-karen
मैंने इससे पहले भी इस बात का जिक्र किया है कि अगर आपको ब्लॉगिंग से जुडी कोई भी जानकारी नही है या फिर आप  Html, Css या Web Devlopment की बिलकुल जानकारी नही रखते हैं तो आप Google के इस फ्री प्लेटफार्म Blogspot को अपना सकते हैं. बता दें कि एक फ्री सर्विस होने के कारण आपको यहाँ फ्री डोमेन ही मिल पाता है. आपकी  वेबसाइट पर .com, .in, या .org जैसे प्रीमियम Domain नहीं मिल पाता है, इसके लिए ब्लॉगर में आपको .blogspot नाम से डोमेन दिया जाता है. जैसे www.myexample.blogspot.com, अगर यहाँ .com कस्टम डोमेन सेट किया जाये तो यह www.myexample.com हो जायेगा.  इसी कारण ब्लॉगर अपने ब्लॉग के लिए custom domain का प्रयोग करते हैं. जिससे उनके वेबसाइट  या ब्लॉग का लुक, छोटा, समझने में आसन, ज्यादा आकर्षक दिखाई देता है और सर्च इंजन में रैंकिंग में भी मदद करता है।


दोस्तों आज में आपको बताऊंगा कि फ्री ब्लॉगर यानि Blogspot में Custom  Domain कैसे Add करते हैं. शुरुआत में  इस प्रक्रिया में आपको थोडा मुश्किल हो सकती है लेकिन कोई भी  मुश्किल काम नामुनकिन तो नही होता, एक बार आप इसे प्रैक्टिस में लायेंगे तो अगली बार आपको कोई भी दिक्कत नही होगी, यह बेहद ही आसन हो जाएगा. ब्लॉगर में कस्टम डोमेन को जोड़ने की स्टेप बाय स्टेप गाइड दी जा रही है, इसके लिए  उस website में डोमेन के Dns Setting में जाना होता है जहाँ आपने अपना Domain खरीदा है, वैसे सभी वेबसाइट में ये प्रोसेस लगभग एक जैसा ही रहता है.


Godaddy website एक लोकप्रिय वेबसाइट है जहाँ से आप कम कीमत में बढ़िया  Domain  अपने ब्लॉग के लिए चुन सकते हैं, godaddy website से अपने ब्लॉग के लिए कस्टम डोमेन add करने के लिए नीचे Step By Step गाइड दी जा रही हैं.
Custom-domain-setup
सबसे पहले ब्लॉगर के डैशबोर्ड को ओपन  करेंगे और यहाँ Setting पर Click करेंगे इसके बाद आपको पहले आप्शन  Basic को सेलेक्ट करना होगा,  क्लिक करते  ही आपके सामने Publishing का आप्शन दिखाई देगा जिसमें आपके ब्लॉग का Adress दिया होगा, अब आपको + Set up a third-party URL for your blog  पर क्लिक करना है. इस पर क्लिक करते ही आपको डोमेन नाम का आप्शन आएगा आप इसमें अपना खरीदा हुआ डोमेन का नाम Enter करें. जिसे आप कस्टम Domain सेटअप के लिए इस्तेमाल करने वाल हैं.
blogger-custom-domain-setup
ध्यान रहे कि आपको डोमेन नाम से पहले www को भी ऐड करना है जैसे : www.domainname.com. इसे बाद सेव के बटन  पर क्लिक करें अब आपको दो आप्शन दिखाई देंगे जहाँ  Lable, target और Destination, और point नजर आएगा.
blogger-damain-setting
आप फोटो में भी देख सकते हैं, यहाँ दोनों आप्शन को मार्क कर दिया है जिससे आपको समझने में आसानी हो, यही दो आप्शन आपके काम के है जो आगे जाकर डोमेन Setup में काम आयेंगे.

अब आपको Godaddy की वेबसाइट को ओपन करना है,

godaddy-dashboard
और प्रोफाइल में जाकर My product  पर  क्लिक करना है. यहाँ क्लिक करते आपके रजिस्टर्ड डोमेन की लिस्ट दिखाई देगी, अब आप जिस Domain को ब्लॉगर में कस्टम डोमेन बनाना चाहते है उसके ठीक  सामने dns पर क्लिक करना है,  अब यहाँ आपने कुछ रिकार्ड्स को Add करना है, जो आप इमेज  में भी देख सकते हैं.
blogger-dns-setting-godaddy
ध्यान रहे ब्लॉगर की सेटिंग में डोमेन नाम इंटर करने के बाद Save बटन पर क्लिक करते ही आपको जो दो सेटिंग दिखाई दे रही थी इस सेटिंग को आपको ठीक उसी प्रकार से ऐड करना है जैसे की आपको इमेज में दिखाया है, इसके बाद आपको एक और काम करना है जिसमे आपको नीचे दिए A-records को add करने  है.इसके लिए आप इमेज में देख सकते है.

216.239.32.21

216.239.34.21

216.239.36.21

216.239.38.21 
blogger-domain-redirection
इन रिकॉर्ड को भी आपको एक एक करके ऐड करना होगा, इतना करने के बाद आपका 95% काम कम्पलीट हो गया है, अब आपको ब्लॉगर के डैशबोर्ड में आना है, यहाँ और SETTING>BASIC में जाकर publishing में  Redirect वाले आप्शन में checkbox को check करना है. अब ब्लॉगर के लिए कस्टम डोमेन सेट हो चुका है. इसे एक्टिव होने में आपको कुछ घंटों का समय लग सकता है।

दोस्तों इस पोस्ट के माध्यम से मैंने ब्लॉगर के लिए custom Domain सेटअप की पूरी जानकारी दी थी इसके बावजूद भी अगर आपको सेटअप से जुड़ी कोई भी परेशानी हो तो आप निचे कमेंट बॉक्स में पूछ सकते हैं, यह पोस्ट आपको कैसी लगी आप अपनी राय अवश्य दे।



Blogger Me godaady Custom Domain ko kaise Add Karen

नए ब्लॉगर के लिए यह जानना जरूरी है कि वो अपने Blog पर High Quality की  Royalty free फोटो कहाँ से लगाए. जब हम Google पर या किसी और सर्च इंजन में किसी फोटो को सर्च करते है तो सामने आपको हजारों कि संख्या में रिजल्ट देखने को मिल जायेंगे, कुछ ब्लॉगर जाने अनजाने में अपने ब्लॉग पर गूगल से सर्च की गई Image का इस्तेमाल करते है जो Copyrighted हो सकती हैं. जो आपके ब्लॉग के लिए सेफ नही है।
top-10--royalty-free-images-commercial-use
royalty-free-photo-website

ब्लॉग के लिए Google से इमेज का चुनाव सेफ नही :

हालाँकि गूगल पर कई तस्वीरों को देखा जा सकता है पर यहाँ से आपको बढ़िया Quality नहीं मिल पायेगी वैसे भी क्वालिटी से ज्यादा महत्त्व Copyright का है, आप गूगल पर सर्च की गई किसी भी इमेज को क्लिक करके दिखोगे तो आपको इमेज के ठीक नीचे लिखा मिलेगा "Images may be subject to copyright". इससे ये तो सपष्ट हो जाता है कि गूगल सर्च इंजन पर भी किसी फोटो को समझ पाना मुश्किल है कि वो रॉयल्टी फ्री है या कॉपीराइटेड. इसके लिए आपको और भी कई आप्शन मिल जाते हैं दोस्तों में आपको कुछ ऐसे वेबसाइट के नाम बताऊंगा जो Legally सेफ ओर फ्री हैं, इन royalty free images को commercial use के लिए कही पर भी इस्तेमाल किया जा सकता है।


ऐसे Source जहाँ से आप Legal और बेस्ट Quality की तस्वीरे ले सकते हैं :

Pexels:

इस वेबसाइट के माध्यम से आप हर हप्ते नए नए Photo Collection प्राप्त कर सकते हैं , इसमें उपलब्ध किसी भी इमेज को आप कही भी प्रयोग में ला सकते हैं . लगभग सभी कैटगरी सम्बंधित तस्वीरों के लिए यह साईट लगातार grow कर रही है. सबसे ख़ास बात आप तस्वीरों को फ़िल्टर करके निश्चित कैटगरी को सेलेक्ट कर सकते हैं।

Unsplash:

Unsplash भी एक कॉपीराइट-मुक्त वेबसाइट है। यहाँ आपको हाई क्वालिटी वाली तस्वीरें देखने को मिलती है। इस वेबसाइट के कलेक्शन के लिए 70000 से भी ज्यादा फोटोग्राफर का योगदान रहा है। यहाँ आपको अलग अलग केटेगरी की करीब 500000 से ज्यादा इमेज देखने को मिलती है। Unsplash अपनी बढ़ती लाइब्रेरी पर एक महीने में करीब 5 अरब से अधिक फोटो इंप्रेशन उत्पन्न करती है।

Shutterstock:

ShutterStock में 100 मिलियन से भी ज्यादा रॉयल्टी फ्री फोटो का भण्डार है, यहाँ हर रोज करीब 10000 से ज्यादा फोटो ऐड होती है। शटरस्टॉक एक अमेरिकी स्टॉक फोटोग्राफी, स्टॉक फुटेज प्रदाता कंपनी है इसका मुख्यालय न्यूयॉर्क सिटी में है।

Burst-shopify:

Burst Shopify में भी आपको हजारों Photos का कलेक्शन देखने को मिलता है। इस प्लेटफार्म से भी अलग अलग इमेज को लेकर अपने बिसनेस या किसी भी प्रकार के कमर्शियल USE के लिए भी प्रयोग में लाये जा सकते हैं।

Pixabay:

Pixabay website को बहुत से photographers की community द्वारा बनाया गयी site है जहाँ high quality images upload किये गए हैं. बहुत से लोग स्मार्टफोन का इस्तेमाल करते हैं वो लोग इसकी एंड्राइड एप्लीकेशन को भी डाउनलोड कर सकते हैं, यह पूओरी तरह से यूजर फ्रेंडली है, कई category में उपलब्ध इन सभी images को free में download करके इस्तेमाल किया जा सकता है।

JayMantri.com:

Creative Commons CC0 के तहत Update की गयी इस शानदार वेबसाइट में भी आपको तरह तरह की इमेज देखने को मिलती है। हर Thursday को एक HUGE COLLLECTION को वेबसाइट में जोड़ा जाता है. यहाँ आपको Professional और Quality Images की बढ़िया Gallery देखने को मिलती है।

Flicker:

Flickr का नाम तो आप जानते होंगे ये एक शानदार website है जहाँ आप free में images को search करके download कर सकते हैं. यहाँ लाखों की तादाद में images उपलब्ध हैं जिसे आप अपने blog के content के लिए प्रयोग में ला सकते हैं. हजारो photographers द्वारा अपलोड किये गए photos के लिए आपको account खोलने की जरुरत भी नहीं पड़ेगी. smartphone यूजर के लिए flickr का app भी इस्तेमाल में लाया जा सकता हैं. जिसे आप play store से install कर सकते हैं।

Stocksnap:

StockSnap website भी फ्री इमेज पाने के लिए एक बढ़िया वेबसाइट है यहाँ आपको खुबसूरत और high quality images देखने को मिलती है, कॉपीराइट के डर के बिना आप अपने ब्लॉग के लिए बिना परवाह किये इमेज चुन सकते हैं, इसके लिए किसी भी तरह की समस्या नहीं होने वाली है, हर सप्ताह में इस वेबसाइट के लुइए नया फोटो का फ्रेश कलेक्शन शामिल किया जाता है।

SplitShire:

SplitShare से भी आपको free images download करने को मिल जाते है यह भी Non copyright इमेज की website हैं जिसे किसी web designer द्वारा बनाया है जिनका नाम है Daniel Nanescu. है, यह वेबसाइट हाई क्वालिटी इमेज अपलोड करती है जिनका इस्तेमाल पर्सनल या कमर्शियल यूज़ के लिए किया जा सकता है।

DesignersPics:

Jeshu John नाम के एक इंडियन blogger द्वारा बनाई गई यह वेबसाइट DesignersPics एक बेहद यूनिक है, इसकी खास बात ये है कि इस website पर सभी images का जिम्मा इन्होने ही उठाया है. अपने blog में इस्तेमाल करने के लिए आप इस वेबसाइट से भी image चुन सकते हैं। रोजाना 4000 से ज्यादा visitors पाने वाली इस वेबसाइट से भी आप high resolution images download करते हैं।

Blog के लिए Royalty free images वाली 10 वेबसाइट

Full-backup-guide-blogspot

दोस्तों Blogspot blog का complete backup कैसे करते है आज मैं आपको यही जानकारी देने वाला हूँ. ब्लॉगर या blogspot में आज आपको ब्लॉग के POST का backup लेने की जानकारी दी जायेगी.
किसी Blog को शुरू करने के बाद ब्लॉग Owner की जिम्मेदारी होती है कि वो अपने ब्लॉग को कैसे सुरक्षित रखे, दोस्तों आज के इस पोस्ट में में आपको बताऊँगा कि एक ब्लॉग के Contents को Safe कैसे रखा जाए। पिछले आर्टिकल में मैंने ब्लॉग को बनाने और उससे जुड़ी लगभग सभी जानकारी आप लोगो से शेयर की थी। अब बारी आती है ब्लॉग की सुरक्षा की, हर Blogger के लिए ब्लॉग को सुरक्षित रखना बहुत जरूरी हो जाता है, आप अपनी मेहनत से ब्लॉग बनाकर ऐसे ही नही छोड़ सकते। क्योंकि अगर आपके ब्लॉग में कोई भी दिक्कत आती है तो आपकी मेहनत का आपको कुछ भी नही मिलने वाला। आपको फिर Zero से शुरू करना पडेगा
blogspot-me-complete-backup-kaise-le

आज हम जानेंगे की ब्लॉगर यानि Blogspot में किसी भी ब्लॉग का Backup कैसे लिया जाता है। जैसे कि आप जानते हैं ब्लागस्पाट एक फ्री Blogging platform है जहाँ आप फ्री में ब्लॉग बनाकर कई जानकारी लोगों तक शेयर करते हैं, इस फ्री प्लेटफार्म में आप अपने ब्लॉग को ऑपरेट तो करते हैं पर इस ब्लॉग पर आपसे ज्यादा गूगल की priority है। अगर आपके ब्लॉग में गूगल की Term और Condition या फिर पॉलिसी के विरुद्ध कोई भी Activity होती है तो आपका ब्लॉग बिना बताये Close किया जा सकता है।

अगर आप अपने ब्लॉग के लिए 100% मालिकाना हक़ चाहते है तो आपको Blogger के बजाय Self Hosted Wordpress प्लेटफार्म को चुनना बेहतर रहेगा। आज वर्डप्रेस ही ज्यादातर ब्लॉगर का फेवरेट प्लेटफार्म है। इनकी संख्या दिनों दिन बढ़ती जा रही है। वर्तमान में 31% इंटरनेट को Wordpress Platform द्वारा ही पावर मिली है।
अगर आप ब्लॉगर को इस्तेमाल करते हैं तो आपको अपने ब्लॉग को सुरक्षित रखने के लिए समय समय पर Backup लेते रहना चाहिए। यह जरूरी बात जो नए ब्लॉगर को जानना जरूरी है।

ब्लॉगर में आपको दो तरह के बैकअप की जरूरत होती है। पहला है अपनी Theme या Templates जो आप अपने ब्लॉग पर इस्तेमाल करते है वो और दूसरा है अपने पूरे ब्लॉग का Backup जैसे Post इत्यादि।

यह जानना आवश्यक है की Theme या टेम्पलेट में ब्लॉग का कौन सा Content save होता है और Blog के बैकअप में कौन सा, अगर आप Theme का बैकअप लेते हैं तो आपको आपके थीम जो आपने कस्टमाइज की है। उसका Layout और ब्लॉग का Design सेव होता है। वे ब्लॉगर जो अपने ब्लॉग को एडिट करके Modify करते हैं उन सभी को किसी भी Editing या मॉडिफिकेशन से पहले बैकअप ले लेना चाहिए ताकि कोई भी गड़बड़ी होने पर उस Themes को फिर से अपलोड किया जा सके।

अगर आप अपने सभी Blog के पोस्ट को सेफ रखना चाहते हो तो आपको इसके लिए भी बैकअप की सुविधा दी गई है। जिसे आप समय समय पर बैकअप लेकर सेफ रख सकते है। ताकि किसी भी दिक्कत या Blog के बंद होने पर आप दूसरे ब्लॉग में इस बैकअप जो xml फाइल है, को Shift कर सकते हैं। ब्लॉगर में Auto Backup की कोई सुविधा नहीं है। इस लिए आपको समय समय पर बैकअप लेना चहिये।

Blogger में ब्लॉग का बैकअप लेने का सरल तरीका :

ब्लॉग का बैकअप लेने के लिए आपको ब्लॉग के डैशबोर्ड में जाना है। यहाँ आपको Setting का ऑप्शन दिखाई देगा, अब आपको सेटिंग में Other पर क्लिक करना है इस पर क्लिक करते ही आपको import और Backup का ऑप्शन दिखाई दे रहा होगा। Backup पर क्लिक करके आप अपने ब्लॉग की post, Comment और pages को सेफ कर सकते हैं।
blogspot-me-backup-lene-ka-tarika
Backup के ठीक सामने import content का ऑप्सन भी है, इस बटन पर क्लिक करके आप अपने ब्लॉग के बैकअप लिया कंटेंट्स को इम्पोर्ट कर सकते हैं।
Backup लिया हुआ कंटेंट्स एक ब्लॉगर के लिए बहुत महत्व रखता है इस कारण आप समय समय पर backup बनाकर रखें, और इसे अपने कंप्यूटर या फोन में सेव कर लें। अपने ब्लॉग के बैकअप की ज्यादा Safety के लिए आप Google Drive, dropbox या अन्य किसी Cloud Storage का इस्तेमाल भी कर सकते हैं।
अगर आप Blogging से जुडी इस जानकारी से प्रसन्न हैं तो इस post को Social Networking साइट्स जैसे Facebook, Twitter या whatsapp ग्रुप में भी शेयर करें ताकि आपके साथ साथ आपके मित्रों को भी जानकारी मिल सके।
इस पोस्ट संबधी कोई भी सुझाव आप कमेंट बॉक्स में दे सकते है।

Blogspot me Post ka backup kaise lete hain

free-blog-kaise-banate-hain
फ्री ब्लॉग कैसे बनाये, अक्सर यह सवाल हर नए ब्लॉगर के मन में होता है, शुरुवात में free blog kaise bnaye/ How to Make A Blog जैसी जानकारी हर ब्लॉगर की प्राथमिकता होती है, दोस्तों ब्लॉग्गिंग से जुड़ने से पहले मेरे मन में भी free blog कैसे बनाए, यही सवाल मन में आया था, आज मैं आपको Blogspot पर फ्री ब्लॉग बनाने की Step by step गाइड देने जा रहा हूँ.
पिछले आर्टिकल में हमने ब्लॉग क्या है और कैसे काम करता है, इन सब की जानकारी दी थी, अब हम आपको फ्री ब्लॉग बनाना सिखायेंगे, जो कि हर व्यक्ति के लिए आसान है। सबसे पहले हम फ्री ब्लॉग्गिंग प्लेटफार्म के बारे में जानेंगे और फिर Paid सर्विस से चलने वाले ब्लॉग या वेबसाइट के बारे में जानकारी उपलब्ध करायेंगे। एक बिसनेस या प्रोफेशनल ब्लॉगिंग के लिए ही वर्डप्रेस Wordpress बढ़िया प्लेटफार्म है। लेकिन ऐसे नए ब्लॉगर जिन्हे ब्लॉग संबधी कोई जानकारी नही है उनके लिए कुछ समय के लिए ब्लॉगर को अपनाना बेहतर रहेगा। जैसे ही आप एक Blog को रन करने के लिए जरूरी बातों को सीख लेंगे तब आप Wordpress में Shift हो सकते हैं। Wordpress और इसका Setup, installation, ब्लॉगर की अपेक्षा थोड़ा कठिन है लेकिन ब्लॉगर में एक्टिव रहने के साथ ही आप वर्डप्रेस को भी आसानी से सीख सकते है।
Royalty free फोटो कहाँ से Read more : https://www.bestblogtrick.com/2018/09/royalty-free-image-download.html
Royalty free images वाली 10 वेबसाइट Read more : https://www.bestblogtrick.com/2018/09/royalty-free-image-download.html
Royalty free फोटो कहाँ से Read more : https://www.bestblogtrick.com/2018/09/royalty-free-image-download.html
Royalty free images वाली 10 वेबसाइट Read more : https://www.bestblogtrick.com/2018/09/royalty-free-image-download.html
Royalty free images वाली 10 वेबसाइट Read more : https://www.bestblogtrick.com/2018/09/royalty-free-image-download.html
दोस्तों Google ने Blogger की जरुरत के अनुसार ये सुविधा दी है जिसमें आप फ्री ब्लॉग बनाकर लोगों तक अपनी जानकारी शेयर कर सकते हैं। अगर आप एक नए ब्लॉगर हैं और आपको ब्लॉग से जुड़ी कुछ भी जानकारी नही है फिर भी आप आसानी से ब्लॉग बना सकते हैं, इसके लिए आपके पास गूगल का अकाउंट होना आवश्यक है, अगर आपके पास गूगल का Gmail अकाउंट है तो भी आप ब्लॉग बना सकते हैं, गूगल ब्लॉग यानी Blogspot एक फ्री सर्विस है, इसके लिए आपको किसी होस्टिंग की भी आवश्यकता नही, यह पूरी तरह से फ्री सर्विस है।

Blogger पर Free ब्लॉग बनाने के आसान स्टेप :

  1. जैसे की मैंने बताया की ब्लागस्पाट पर ब्लॉग बनाने के लिए आपके पास Google अकाउंट होना चहिये। एक Gmail अकाउंट बनाने के लिए आप किसी भी ब्राउज़र के सर्च बॉक्स में Gmail.com टाइप करके आसानी से बना सकते है।
    blogger-me-blog-kaise-banaye
  2. अकाउंट बन जाने केे बाद आपको किसी भी Browser में Blogger.com टाइप करना है जैसे की आप सामने दिए गए image में देखते है जहाँ blogger.9 लिखा है उस लिंक पर क्लिक करना है, या फिर आप डायरेक्ट Creat your Blog वाले लिंक पर भी क्लिक कर सकते हैं।
  3. आपको ब्राउज़र में Sign in का ऑप्शन दिख रहा है तो यहां अपने जीमेल अकाउंट को डालना है। आप ब्राउज़र में पहले से ही Logged हैं तो आपको किसी भी ऑप्शन पर क्लिक करना है और आप डायरेक्ट अगले स्टेप में पहुंच जाएंगे।
  4. यहां पिक्चर में एक नंबर पर Title लिखा है, इसमें आपको टाइटल डालना है जो आपके वेबसाइट के नाम का हो जैसे Example के लिए मैंने एक ब्लॉग का नाम सोचा myonlinehelp.com तो आप टाइटल में Online help लिखेंगे तो बेहतर रहेगा।
    creat-free-blog-guide
  5. इसके बाद 2 नंबर में आपको ब्लॉग का नाम टाइप करना है अगर ब्लॉग का नाम देकर कोई Warning दिखता है तो आप नाम को Modify करके देख सकते हैं। अगर Domain का नाम Available रहेगा तो आपको सामने Available का मैसेज दिखाई देगा।
  6. अपने ब्लॉग के अड्रेस के लिए आपके सामने PlaceHolder में Example भी दिया गया है। इतना करने के बाद आप नीचे दिए कोई भी Suitable Theme को सेलेक्ट कर सकते हैं। इतना कर लेने के बाद आपको Creat blog का ऑप्शन दिखाई देता है।
  7. अगर आपने ऊपर के Option me सारी जानकारी सही से दी है तो यह ऑप्शन इनेबल रहेगा नहीं तो तो आपको यह ऑप्शन फेड दिखाई देगा जो कि Disable रहेगा। जैसे ही आप इस बटन को क्लिक करेंगे आपका ब्लॉग बनकर तैयार हो जाएगा।
इस बीच में आपको Custom Domain का एक pop-up पेज दिखाई देगा जिसमें आपको कस्टम डोमेन के लिए Suggest करेगा आप चाहे तो डोमेन ले सकते है या फिर इस ऑप्शन को Skip भी कर सकते हैं। अगर आप नए ब्लॉगर है तो आप फ्री प्लेटफार्म को ही चुने और अपने ब्लॉग पर बढ़िया कंटेंट डालते रहें।

एक बढ़िया कस्टम डोमेन आप कभी भी अपने ब्लॉग के लिए चुन सकते है। अब आप देखेंगे कि आपका ब्लॉग पूरी तरह से तैयार हो गया है। ब्लॉगर यानि Blogspot आपको फ्री सर्विस देता है जहां आपको फ्री Doamin नाम ही मिल पायेगा जैसा कि www.example.blogspot.com एक फ्री डोमेन नाम है जिसे आप कस्टम डोमेन का चयन करके www.example.com कर सकते है।

Blogger के डैशबोर्ड में कौन से आप्शन में क्या है, संक्षेप में जानें :

blogspot-dashboard-option
  1. Blogger पर ब्लॉग बनाने के बाद Dashboard पर आपको कई options देखने को मिलेंगे। इनमें पहला ऑप्शन Post का है जिसके द्वारा आप अपने ब्लॉग में पोस्ट डाल सकते हो, यहाँ आपको पोस्ट का शीर्षक और पोस्ट लिखनी होती है। अपनी पोस्ट लिखने के बाद आपको Publish का ऑप्शन भी मिलता है। एक बार पोस्ट को पूरा करने के बाद आपको अपने पोस्ट से सम्बन्धी Tag भी लगाना होगा, यह एक ब्लॉग के लिए इम्पोर्टेन्ट है यहाँ आपको permalink और Search description का भी ऑप्शन मिलता है। जिसमें आप अपने ब्लॉग आर्टिकल की जानकारी संक्षेप में दे सकते है।
  2. अगले ऑप्शन में आपको स्टेटस दिखाई देता है जो आपके ब्लॉग की ट्रैफिक यानि Page views को दर्शाता है इस Tool की मदद से आप यह भी जान सकते हैं कि किस Country से आपके ब्लॉग पर कितनी ट्रैफिक हासिल हुई।
  3. आपको नंबर तीन में comments का ऑप्शन दिखाई दे रहा होगा। यहाँ आप Publish Comments के साथ साथ Spam और मॉडरेशन के लिए Pending message की इनफार्मेशन मिलती है।
  4. Blogger डैश्बोर्ड के नंबर चार ऑप्शन में Earning का ऑप्शन मिलता है जो आपके Adsense अकाउंट से लिंक रहता है। यहाँ से आप ब्लॉग पर होने वाली इनकम को जान सकते है।
  5. 5वें ऑप्शन में आपको Pages लिखा दिखाई दे रहा है जो आपको ब्लॉग के लिए important पेज जैसे Privacy policy, About us , Disclaimer, term of use जैसे पेज बनाने में मदद करता है।
  6. अगला ऑप्शन आपको Layout से संबंधी है जिसके द्वारा आप अपने ब्लॉग के लेआउट को चेंज कर सकते हैं साथ ही नए Widget को भी ऐड कर सकते है। यह ब्लॉगर का एक मुख्य ऑप्शन है यहाँ आपको , Social मीडिया जैसे फेसबुक पेज, ट्विटर पेज, लेबल, Tag और भी ब्लॉग से जुड़े तमाम काम कर सकते है।
  7. अगला ऑप्शन Theme का है यहाँ आप थीम का बैकअप ले सकते है और थीम को Edit करके इसमें चेंज भी कर सकते हैं। Meta tag या किसी Script को ऐड करना आदि कार्य इस ऑप्शन के द्वारा ही किया जाता है, और आप Theme को चेंज भी कर सकते हो अगर आपके पास कोई Premium या Third party की थीम है तो उसे Upload करने के लिए आपको इस ऑप्शन का चुनाव करना होगा।
  8. अब हम बात करेंगे Blogger सेटिंग की यह ब्लॉगर का बहुत महत्वपूर्ण ऑप्शन है इसमें आपको Select करने पर और ऑप्शन दिखाई देंगे जिसमे Basic. , comment ,Sharing, लैंग्वेज, Formatting, Search preference , और अन्य दो ऑप्शन दिखाई दे रहे होंगे जो किसी Blog को तैयार करने के बाद बढ़िया तरीके से Setup करना होता है, जैसे ब्लॉग के Title का नाम और Description, या फिर ब्लॉग की Privacy यानि ब्लॉग को सर्च इंजन में शो करना है या नही।
एक Blog site के लिए कस्टम Domain को ऐड करने के लिए भी आपको सेटिंग में जाकर Publishing ऑप्शन में जाना होता है। अपने ब्लॉग को Search Console में ऐड करना,Meta Tag डिस्क्रिप्शन और Robots.txt जैसे मुख्य कार्य भी इसी ऑप्शन में जाकर पूरे किये जाते है। ब्लॉगर सेटिंग की विस्तृत जानकारी आपको आगे की पोस्ट में शेयर की जाएगी।

दोस्तो अगर आपके मन में कोई सवाल हो या पोस्ट संबधी कोई भी सुझाव हो तो आप कमेंट बॉक्स में शेयर कर सकते हैं।

Blogger में ब्लॉग कैसे बनायें, जानें, Step by step Guide

मैंने 6 महीने पहले से ब्लॉगिंग शुरू की और इस दौरान मुझे कई गलतियों के साथ सीखने को मिला, जिन पर मैं निरंतर सुधार करता रहा। ये जरूरी नही कि Blogging शुरू करने के लिए आपको बहुत ज्यादा मेहनत करनी पड़ती है, लेकिन मैें ब्लॉगिंग से पहले एक गुड लुकिंग ब्लॉग बनाने की सोचता था और ब्लॉग को Customize करने की काफी प्रैक्टिस भी करता था। यहाँ टाइम की वैल्यू बहुत ज्यादा है इसी लिए में आपको यही राय दूँगा कि आप गलतियां कम ही करें इसके लिए आप किसी दूसरे् Blogger की ग़लतियों से सीखकर भी ब्लॉगिंग में सफल हो सकते हैं।

New-blogger-tips-in-hindi

आज मैें आपको ब्लॉग्गिंग से जुड़े कुछ कारगर Tips बताऊँगा जो आपके लिए फ़ायदेमंद हो सकते है। 

आप एक ब्लॉग बनाते हैं और ये देखते है कि आपके आर्टिकल में विजिटर का क्या रिस्पांस मिल रहा है। ऐसा इसलिए क्योंकि कोई भी विजिटर आपके ब्लॉग पर तब तक दोबारा विजिट नही कर सकता जब तक उसे यह न लगे कि आपके आर्टिकल या ब्लॉग में लिखी जानकारी उनके लिए फ़ायदेमंद हो। इसलिए आपको अपने ब्लॉग में ऐसे नये कंटेंट डालने की जरुरत होगी जो किसी भी यूजर को आपके ब्लॉग पर विजिट करने के लिए मजबूर कर देगा ।

ब्लॉग्गिंग में आपको धैर्य बनाये रखना चाहिए :

अगर आप एक नया ब्लॉग शुरू कर रहे हैं तो आपको जल्दी से कुछ भी हासिल नही होने वाला, इसके लिए आपको सब्र करना होगा लेकिन जैसे जैसे आप ब्लॉग्गिंग जारी रखेंगे तो आपको ब्लॉग से जुड़ी कई दिलचस्प चीजें सीखने को मिलेंगी जो हर दिन आपके स्किल को बढ़ायेगा। इसमें थोड़ा सा टाइम लग सकता है। अपना पूरा फोकस ब्लॉग के कंटेंट्स पर दें न की विजिटर स्टेटस पर।

अन्य जानकारी :

  1. फ्री ब्लॉग बनाना सीखें :
  2. Blogger में custom Domain को जोड़े :
  3. नेविगेशन menu को टॉप में Fix कैसे करें :

एक ब्लॉग का Template और Theme कैसा होना चाहिए :

एक अट्रैक्टिव और गुड़ लुकिंग ब्लॉग या वेबसाइट  यूजर को आर्टिकल पड़ने के दौरान बढ़िया अनुभव देता है।  ज्यादा कलर डेंसिटी और तड़क भड़क वाले थीम का प्रयोग न करना यूजर को असहज महसूस करेगा। आप अक्सर देखेंगे कि एक पॉपुलर ब्लॉगर के ब्लॉग का लुक सिंपल लेकिन यूजर फ्रेंडली होता है। इसलिए शुरुआत के दिनों में अच्छे कंटेंट को लिखने में फोकस करें। Theme भी आपके ब्लॉग के लिए बहुत मायने रखता है। इसलिए ब्लॉग के लिए एक बेहतरीन theme का चुनाव करना आवश्यक है। जो डेस्कटॉप औए मोबाइल दोनों के लिए responsive हो. क्योकि कुछ थीम या टेम्पलेट मोबाइल फ्रेंडली नहीं होते, इसलिए आपको एक नए टेम्पलेट का चुनाव करने ये पहले ये जाँच लेना चाहिए कि आपका टेम्पलेट मोबाइल फ्रेंडली है या नही, आज के समय में कोई भी जानकारी स्मार्टफोन के जरिये ही एक्सेस की जाती हैं।
blogger-ke-liye-tips

सीखने की कोई सीमा नही होती:

Blog ही एक ऐसा माध्यम है जिसे आप कभी भी पूरा नही सीख सकते। कभी भी सीखना बंद ना करें। ब्लॉगिंग एक Super गैलेक्सी के सामान है, इसे पूरा सिख पाना संभव नहीं है। अगर आपको लगता है की आप एक माहिर ब्लॉगर है तो आप गलत सोच रहे हैं। क्योंकि यहाँ बहुत कुछ सिखने को मिलता है। आप ब्लॉगिंग के साथ नॉलेज जुटाते रहें।

केवल राइटिंग ब्लॉग्गिंग के लिए मायने नहीं रखता :

Blogging शुरू करने के बाद आपको केवल राइटिंग में ही फोकस नहीं रखना है। आपको साथ ही साथ Coding (Html, css, java script) का भी नॉलेज होना जरूरी है। कम से कम आपको web Development की बेसिक नॉलेज होना जरूरी है। इसके बाद आप ब्लॉगिंग के साथ साथ अपनी नॉलेज को भी बढ़ाते रहें। आपको एक ब्लॉग को कस्टमाइज और डिज़ाइन करना आना चहिये। इसके अलावा भी अपने ब्लॉग के हर एक पोस्ट पर ध्यान दें ?

Blogging आपके लिए Investment है :

अगर आप एक ब्लॉग शुरू करते है तो आपको अपने ब्लॉग को रनिंग में आने में थोडा समय लग सकता है। आपका ब्लॉग एक लॉन्ग टाइम इन्वेस्टमेंट है। आप जब 40 से 50 कंटेंट अपने ब्लॉग में लिख लोगे तभी धीरे धीरे आपका ब्लॉग रैंक करने लगेगा। याद रखे कि यह आपका एक बिज़नेस है जो दो दिन या एक महीने में नही मिलने वाला। शायद आपने अनुभव किया होगा कि हमारे साथ बुरी चीज होने में वक्त नहीं लगता पर अच्छी चीेज के लिए सालों भी गुजर जाते हैं। आप मेहनत से ब्लॉग जारी रखें यह आपको जरूर सक्सेस दिलाएगी।

ब्लॉग को रोजाना एक्टिव रखने के फायदे :

कुछ ब्लॉगर अपने ब्लॉग में काफी अच्छे Contents पोस्ट करते हैं लेकिन वो अपने ब्लॉग को रोजाना एक्टिव नहीं रख पाते इसी कारण वो सक्सेस नहीं हो पाते है। खासकर एक नए ब्लॉगर के लिए हर रोज कुछ न कुछ कंटेंट अपने ब्लॉग में पोस्ट करना जरूरी है, जिससे उसके ब्लॉग पर आने वाले विजिटर को हर रोज नया सीखने को मिलेगा जिससे ब्लॉग में ट्रैफिक भी बढ़ेगा जो एक ब्लोगेर के लिए फायदा ही देता है। दूसरा अगर आप अपने ब्लॉग में जितने ज्यादा कंटेंट डालते है उससे आपके ब्लॉग को सो में भी मदद मिलेगी। जो सर्च इंजन में अच्छे रैंकिंग लाने में मदद करेंगा। गूगल यह भी मॉनिटर करता है की किस ब्लॉगर में हर रोज कुछ नै चीजे ऐड होती है।

एक ब्लॉग के लिए गूगल आपकी मदद करेगा :

ऊपर लिखे हेडिंग्स को पढ़कर आप सोच रहे होंगे कि यह कैसे संभव है पर गूगल यह जानता है कि कौन सा आर्टिकल कितना वैल्युएबल है तो आप निश्चिन्त होकर अपने ब्लॉग्गिंग पर ध्यान दें, आपके कंटेंट्स की क्वालिटी को Google अच्छी तरह समझता है। साथ ही अपने ब्लॉग में जो भी spam, वल्गर जैसे कंटेंट से परहेज करें। क्योंकि ऐसा करके आप लम्बे समय तक अपने ब्लॉग पर Success नहीं पा सकते। ऐसे में आपकी कोई भी पोस्ट सर्च इंजन पर रैंक नही कर पाएगी।

दोस्तो एक नए ब्लॉगर को शरुआत में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है. इस लिए  मैंने आपके प्रोत्साहन के लिए ऊपर कुछ बातों को शेयर किया है, आशा करता हूँ कि इस बातों से आप निराश होने की बजाय जीवन में आगे बड़ते  रहने के लिए उत्सुक हो जायेंगे. यह पोस्ट कैसी लगी, आप कमेंट बॉक्स में अवश्य शेयर करें.

Blog बनाने से पहले इन 7 बातों का रखें ख्याल