SEO kya hai, Seo kee jankaree in hindi

What is SEO, Seo  क्या है, आज मैं आपको SEO यानि search Engine optimization की जानकारी देने जा रहा हूँ, किसी वेबसाइट को बिना seo के वजूद में नहीं लाया जा सकता है, दोस्तों भले की आप अपने ब्लॉग को कितना भी बढ़िया या क्वालिटी पोस्ट से भर लो लेकिन बिना seo की जानकारी के आप इसे रैंक नहीं करा सकते, अगर आप ब्लॉग बनाना सीख चुके हो, तो इसके बाद आपका पहला काम आर्टिकल लिखना और अपने ब्लॉग या वेबसाइट का seo करना होता है।
seo-kya-hai-in-hindi
आज मैं इस टॉपिक के बारे में विस्तार से बताऊंगा, जब आप एक Blog या Website बनाते है तो उस पर आप अपने विचार लोगों को Share करते है। ब्लॉग या वेबसाइट ही एक ऐसा माध्यम है जो आपको बहुत कम समय में हजारो लोगों से Connect करा सकता है। लेकिन Seo के बिना ये संभव नही, क्योंकि यह एक ऐसी तकनीक है जो आपके ब्लॉग को Search Engine में Rank करने में मदद करता है।


    हर रोज हजारों लोग Blogging से जुड़ते है, और ऐसे में सर्च इंजन में एक ही वेबसाइट Top Ranking में नही होती,  यह Seo में बदलाव के साथ साथ बदलती रहती है। एक नया ब्लॉगर सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन को लेकर बड़ी असुविधा में होता है।


    अपने ब्लॉग को सर्च इंजन के पहले Page पर Rank कर पाना इतना आसान नही है। इसलिए ब्लॉगर को अपने ब्लॉग में Seo करने की जरूरत होती है। शुरुआत में आपको Seo को समझना मुश्किल काम लग सकता है। लेकिन एक बार इसे समझने के बाद आप Seo के माध्यम से अपने ब्लॉग को Search Engine में Optimize कर सकते है। हालाँकि यह तकनीक किसी एक दो चीजो पर काम नही करती इसके लिए 200 से ज्यादा Factor काम करते हैं।

    भले ही आप अपने आर्टिकल को कितना भी बढ़िया को न लिख लें लेकिन अगर आपने Article में Seo नही किया तो आपकी मेहनत बेकार है। इसी लिए Google इसके लिए जो Technique काम में लाता है उसे Google Algorithm कहा जाता है। यह किसी एक निश्चित Parameter पर काम नही करता है और निरंतर बदलता रहता है जिसके कारण हर एक Blog site की रैंकिंग प्रभावित होती है।
    off-page-seo-aur-onpage-seo-in-hindi
    आज तक Google की इस तकनीक को कोई भेद नही पाया है, लेकिन इसके लिए कुछ Fundamental Principles जरूर हैं, जिनका इस्तेमाल करके आप अपने ब्लॉग की Ranking को काफी बेहतर बना सकते हैं। Seo को लेकर हमेशा Update रहकर भी अपने ब्लॉग Post में बदलाव लाकर भी सर्च इंजन में अपने ब्लॉग की रैंकिंग को बेहतर बनाया जा सकता है।
    ब्लॉग्गिंग एक Intrusting Platform है जो आपके Communication को बढाता है और साथ ही आप इससे बढ़िया Income भी कर सकते ह। पर इसके लिए आपको कुछ मूलभूत चीजों को समझना भी जरूरी है। आज मैं आपको Seo से जुड़ी कुछ महत्वपूर्ण जानकारी दूँगा जो आपको अपने ब्लॉग या वेबसाइट की रैंकिंग को बेहतर करने में काम आयेंगे।

    Seo (Search Engine Optimaization) क्या है :

    जब आप सर्च इंजन पर कुछ भी टाइप करते हैं तो आपको उस Word से जुड़े कई Results की लिस्ट दिखाई देती है। इस लिस्ट में नंबर 1 पर जो भी ब्लॉग या वेबसाइट नजर आएगी, Seo के मामले में वो सबसे ऊपर है यानी उस ब्लॉग या वेबसाइट पर Seo का इस्तेमाल सबसे बढ़िया हुआ है।

    Ranking में सबसे ऊपर होने से कोई भी यूजर सर्च रिजल्ट्स में पहले लिंक पर ही क्लिक करेगा जिससे उस ब्लॉग में Visiter की संख्या भी बढ़िया होगी। आप अपने ब्लॉग को सोशल शेयरिंग के द्वारा भी लोगो तक पंहुचा सकते हैं लेकिन Genuine और Organic Traffic पाने के लिए आपको अपने ब्लॉग को Seo के द्वारा Optimize करना होगा।

    Blog के लिए Seo क्यों जरुरी है :

    किसी ब्लॉग के लिए Seo की अहम् भूमिका होती है। जैसे सर्च इंजन में आपको एक कीवर्ड को सर्च करने पर हजारों रिजल्ट्स प्राप्त होते हैं लेकिन कुछ ही वेबसाइट है जो रैंकिंग में नजर आती हैं तो बाकी क्या?

    आज के समय में कंटेंट्स राइटर की कोई कमी नही है। ऐसा नही कि लोगों के राइटिंग स्किल में कोई कमी है। यहाँ एक से बढ़कर एक बढ़िया आर्टिकल्स इंटरनेट पर मौजूद है। पर सभी सर्च इंजन पर नजर नही आते या फिर इग्नोर कर दिए जाते है।

    जब तक आप अपने ब्लॉग पर Seo का इस्तेमाल नहीं करेंगे तो किसी सर्च किये जाने वाले कीवर्ड पर टॉपिक लिखने के बाद भी आपका ब्लॉग रैंक नही कर पायेगा या फिर सर्च इंजन द्वारा Refused कर दिया जाएगा। ऐसे में आपके ब्लॉग पर ट्रैफिक पाना मुश्किल होगा। यदि आप नए ब्लॉगर हो और आपने अपने ब्लॉग पर Seo को बढ़िया तरीके से Apply किया है, तो आप कम समय में भी बढ़िया ट्रैफिक पा सकते है।
    SEO को समझने और इसके साथ प्रैक्टिस करते करते आप अपने  स्किल को और भी स्ट्रांग बना सकते हैं। दो समान टॉपिक पर बनी वेबसाइट में से केवल बेहतरीन Seo का प्रयोग करने वाली वेबसाइट ही रैंक कर पाएगी।

    Seo के मुख्य भाग कौन से हैं :

    मुख्यतः SEO को 2 भागों में बांटा जा सकता है, एक है ONPAGE SEO और दूसरा OFFPAGE SEO. ये दोनों एक दूसरे से एकदम अलग हैं.आइये Onpage Seo और Offpage Seo के बारे में जानते हैं

    Onpage Seo :

    आपने सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन या Seo क्या है और क्यों जरूरी है इसके बारे मैं जान लिया अब आप SEO में Onpage SEO के बारे में बात करेंगे। इसे समझना आसान है। इसमें आप अपने वेबसाइट में Internally काम करते है। इसमें आपके वेबसाइट की Theme या Template के डिज़ाइन पर ध्यान देना होगा। खासकर थीम का मोबाइल फ्रेंडली होना जरूरी है। स्मार्टफोन के इस दौर में आजकल ज्यादातर काम Smartphone से पूरे किये जाते हैं, इस कारण आपको एक Mobile Responsive theme का इस्तेमाल करना चहिये।

    बढ़िया Article लिखने के साथ Keywords पर भी फोकस करना जरूरी है। आप Google के फ्री टूल Keyword Planner की मदद ले सकते है। कीवर्ड का प्रयोग आपको अपने Blog, Post,Title,Meta Description में करना चाहिए. Onpage SEO को Optimize करने के लिए नीचे दिए इस Points पर काम कर सकते हैं.

    Website का Layout :

    एक ब्लॉग का डिज़ाइन Fully Responsive होना जरूरी है। जिससे यूजर एक्सपीरियंस boring न हो। गूगल से जुड़ी एक जानकारी के मुताबिक बताया गया कि जिन लोगों के Blog या Website मोबाइल रेस्पॉन्सिव नहीं होते उन्हें Google द्वारा Penalized किया गया। इसके अलावा भी Social Sharing के लिए दिए गए Links और Icon भी Perfect जगह पर होने चाहिये।

    Title Tag :

    किसी वेबसाइट के लिए परफेक्ट टाइटल टैग का होना जरूरी है। यह पड़ने में आसान होना चाहिए ताकि कोई भी User टाइटल को आसानी से समझे और उस पर क्लिक करे। आप चाहे तो टाइटल के लिए Keyword का इस्तेमाल करना बढ़िया रहता है। अधिकांश Search Engine मैं Title को 65 Words तक ही Read किया जाता है। टाइटल की Quality से ब्लॉग के Onpage Seo काफी प्रभावित होता है।

    META DESCRIPTION :

    जब किसी इनफार्मेशन को सर्च इंजन में सर्च करते है तो आपको कई website की लिस्ट नजर आयगी, आपको उस वेबसाइट के Title के ठीक निचे कुछ Words नजर आते हैं, उसे Meta Description कहा जाता है. जो सर्च इंजन इसी मेटा डिस्क्रिप्शन से पता लगाता है कि किस वेबसाइट में क्या इनफार्मेशन दी गई है। सर्च इंजन में केवल 150 से 160 Character को ही सर्च इंजन द्वारा पहचाना जाता है। बाक़ी के character Ignore किये जाते हैं। यह Onpage SEO के लिए बड़ा Role प्ले करता है।

    SPEED TEST :

    किसी भी वेबसाइट के लिए उसकी Speed बहुत मायने रखता है। अगर आपकी वेबसाइट Loading में ज्यादा समय लेती है तो उसे Visiter द्वारा Ignore कर दिया जाता है। एक एवरेज स्पीड के तहत आपकी वेबसाइट 4से 6 सेकंड में लोड हो जाए तो अच्छा है. ज्यादा टाइम SEO के लिहाज से बुरा माना गया है। इंटरनेट पर बहुत से स्पीड टेस्टर मौजूद है जो आपकी वेबसाइट के लिए Free Speed Test की सेवा उपलब्ध कराती है। और रिपोर्ट में आपको स्लो स्पीड की वजह बताने में भी हेल्प करते है।

    PERMALINKS :

    वेबसाइट के लिए आपको परफेक्ट Permalink की आवश्यकता होती है जो आपके आर्टिकल को रैंक करने में मदद करता है। ध्यान दें कि permalink Short हो तो बेहतर रहेगा। पर्मालिंक में आपको केवल Dashes candidate [ - ] का इस्तेमाल करना है, Underscore [ _ ] का Use करना Seo के मामले में बहुत बुरा है।

    IMAGE alt TAG :

    जब भी आप अपने Blog में कोई भी image ऐड करते हैं तो आपको Image Property में Title Tag और alt tag को भी लिखना जरूरी है, Onpage Seo के लिहाज से आपके टैग का नाम Meaningfull होना चाहिये। अगर आप SEO के बारे में आर्टिकल लिख रहे है तो आप उस आर्टिकल में इमेज के Name को rename करके उसकी जगह Seo.jpg या Topic से मिलता जुलता कीवर्ड्स का use करेंगे हो आपके पोस्ट की इमेज पुरी ऑप्टीमाइज़्ड हो जाएगी। एक पुराने या ज्यादा कंटेंट वाले ब्लॉग में बहुत सी इमेज स्टोर होते हैं, आप चाहे तो इन सभी इमेजेज के लिए अगल Sitmap बनाकर गूगल में सबमिट कर सकते हैं।

    QUALITY CONTENT OR KEYWORDS :

    किसी भी Content को लिखने से पहले यह विचार करना चाहिए की उस कंटेंट की Qality कैसी है। आप जो भी अपने ब्लॉग पर लिखते है। वह कही से Copy किया न हो, लेकिन आप दूसरे ब्लॉगर से इनफार्मेशन ले सकते है जिसे आप अपने शब्दो में लिख सकते है। अपने कंटेंट्स में आपको High Quality Kewords का भी प्रयोग करना चहिये। इसके लिए आप गूगल के फ्री टूल कीवर्ड प्लानर का प्रयोग कर सकते है।

    HEADING TAG :

    Seo के लिए Heading टैग का बहुत बड़ा Role है। किसी भी आर्टिकल का Title H1 टैग में लिखा होना चाहिए और subheading के लिए h2, h3 और अन्य टैग को इस्तेमाल करें। साथ ही आर्टिकल में use होने वाले कीवर्ड को bold कर सकते है। हैडिंग टैग को गूगल बोट्स आसानी से पहचान लेता है। इस कारण आपको अपने Article में heading और subheading का इस्तेमाल करना चाहिये।

    WORD-COUNT :

    आपके आर्टिकल्स की lenght क्या होनी चाहिये। कुछ Pro Blogger जो Seo Factor को बढ़िया से समझते हैं अगर इनकी सलाह मानें तो कोई भी Article कम से कम 1000 Word का होना चहिये। अगर हो सके तो आप इससे भी ज्यादा वर्ड लिख सकते हैं।

    INTERNAL LINKING ON POST :

    किसी WEBSITE को रैंक करने के लिए आपको पोस्ट के बीच में 5-6 Internal Links जोड़ने चाहिए जो आपके Post से और Website के अन्य Article से जुड़े हो, कोई भी विज़िटर जिसे आपके पोस्ट सम्बन्धी और भी जानकारी चाहिए वो उन लिंक्स पर क्लिक करके आसानी से पा सकता है जिससे आपके Page View में भी बढ़ोतरी होगी। इस तरीके से आप अपनी वेबसाइट को आसानी से Rank कर सकते हैं। Example के लिए आप Wikipedia की वेबसाइट में इंटरनल Links को देख सकते हैं.

    OFF PAGE SEO :

    यह Onpage seo से बिलकुल अलग है। किसी भी ब्लॉग में Seo को इम्प्रूव करने से पहले आपको ओनपेज एसईओ पर काम करना चाहिए जब on page Seo को आप अपने ब्लॉग में अप्लाई करते हैं तो आपका ब्लॉग काफी हद तक ऑप्टिमाइज़ हो जाएगा। Offpage seo को कुछ लोग Backlinks से जानते हैं लेकिन यह केवल बैकलिंक्स तक ही सीमित नहीं है। इसके कुछ Example और तरीके नीचे दिए जा रहे हैं आप इन तरीकों को अपनाकर अपने Offpage seo को Improve कर सकते हैं।

    Website को सर्च इंजन में सबमिट करना :

    सबसे पहले आपको अपनी वेबसाइट को सर्च इंजन में सबमिट करना है इसके लिए आपको गूगल कंसोल में जाकर अपनाई प्रॉपर्टी या वेबसाइट को जोड़ना होता है। इसके बिना आपकी वेबसाइट कभी भी सर्च इंजन पर Rank नहीं कर पायेगी।

    COMMENTS :

    बैकलिंक्स प्राप्त करने के लिए आपको दूसरे ब्लॉगर की वेबसाइट में जाकर Commet सेक्शन में कमेंट करना होता है। जिसमें आपको कमेंट के साथ अपनी वेबसाइट का लिंक भी देना जरूरी है। खासकर Wordpress Based Blog में आपको कमेंट के साथ साथ वेबसाइट ऐड करने का भी ऑप्शन मिल जाता है।

    WRITE GUEST POST :

    कुछ पॉपुलर वेबसाइट के लिए Guest post लिखकर भी आप अपने आप लोगों तक अपनी पहचान बना सकते हैं। एक नए ब्लॉगर को गेस्ट पोस्ट लिखकर अपनी वेबसाइट का लिंक भी शेयर करना चाहिए जिससे लोग आपकी वेबसाइट तक पहुँच बना सके।

    SOCIAL SHARING :

    आधुनिक समय में सोशल मीडिया का इस्तेमाल सभी करते हैं लेकिन एक ब्लॉगर के लिए उसकी वेबसाइट को रैंक करने के लिए आप यहाँ से बैकलिंक्स तैयार कर सकते हैं। इसके लिए आप इन वेबसाइट पर अपने ब्लॉग के नाम से पेज Creat कर सकते हैं जो आपके ब्लॉग को Rank करने में काफी मदद करेगा। नीचे कुछ पॉपुलर साइट के लिंक्स दिए हैं जहाँ से आपको बैकलिंक्स पाने में मदद मिलेगी।
    • facebook
    • Pinterest
    • twitter
    • LinkedIn
    • google plus
    • quora
    • medium

    Video Sharing site :

    Internet बहुत से वीडियो शेयरिंग साइट हैं, जिन पर आप अपना अकाउंट क्रीट करके अपने ब्लॉग की वीडियो को शेयर कर सकते हैं, जिससे आपके ब्लॉग को ऑप्टिमाइज़ होने में मदद मिलेगी। इसके लिए कुछ वीडियो वेबसाइट की लिस्ट दी है।
    • https://www.youtube.com
    • http://www.ustream.
    • http://www.hulu.com
    • http://www.dailymotion.com

    IMAGE शेयरिंग SITES :

    एक ब्लॉग में इस्तेमाल किये जाने वाले इमेज को आप फोटो वेबसाइट Account बनाकर शेयर कर सकते हैं, कुछ पॉपुलर वेबसाइट नीचे दिए हैं।
    • https://www.flickr.com/
    • https://www.instagram.com
    • http://imgur.com
    • https://www.shutterfly.com
    • http://www.fotolog.com
    • https://picasa.google.com
    • https://www.tumblr.com

    Note :

    Seo के बारे में गौर करने वाली सबसे महत्वपूर्ण बात ये है कि अगर आपके पास अलग अलग ब्लॉग और वेबसाइट से मिले कई हजारों Backlinks हैं, वो तब तक काम के नहीं जब तक आपने अपनी वेबसाइट को Google, Bing,और yahoo जैसे पॉपुलर सर्च इंजन के मानकों के अनुसार बढ़िया तरीके से Configure न किया हो, ऐसे में खोज परिणामों में आपकी वेबसाइट कभी Rank नहीं कर सकती। इसलिए बेहतर होगा कि आप अपनी साइट को बेहतर बनाने के बाद ही Offpage Seo के लिए काम करें। दोस्तों अगर Seo से सम्बंधित कोई भी सवाल या सुझाव आपके मन में हो तो आप कमेंट बॉक्स में शेयर कर सकते हैं।

    Post a Comment

    0 Comments